धोनी - भुवनेश्वर रहे हीरो - भारत ने श्रीलंका को 3 विकेट से हराया


bhuvneshvar-50-vs-sri-lanka

भारत ने श्रीलंका को रोमांचक मेच में 3 विकेट से हरा दिया है। श्रीलंका ने पहले बेटिंग करते हुए 50 ओवरों में 8 विकेट खोकर 236 रन बनाये थे और भारत के सामने जितके लिए 237 रनो का लक्ष्य दिया था लेकिन बारिश की वजह से मैच 47 ओवरों का करना पड़ा और भारत को डकवर्थ लुइस मेथड के तहत 231 रनो का लक्ष्य मिला।

भारत की शानदार शुरुआत

आसान से लग रहे लक्ष्य का पीछा करने उतरे भारतीय ओपनरों ने शानदार शुरुआत दिलाई। शिखर धवन और रोहित शर्मा ने पहले विकेट के लिए शतकीय साझेदारी करते हुए 109 रन जोड़े। रोहित शर्मा ने 45 गेंदों में 5 चौके और 3 छक्के की मदद से 54 रन बनाये। शिखर धवन ने भी सिर्फ 1 रनो से अपना अर्धशतक चूक गए। शिखर धवन ने 6 चौके और 1 छक्के की मदद से 50 गेंदों में 49 रन बनाये।

वन डे में 231 रनो का लक्ष्य आसान है - सच में ?

जीत आसान सी लग रही थी. लक्ष्य बड़ा नही था और ओपनिंग साझेदारी भी 100 के पार थी। लेकिन इसी वक्त आसान सा लग रहा लक्ष्य पार करना असंभव सा लगने लगा। कारण ? कारण था श्रीलंका का स्पिन गेंदबाज अकीला धनंजया।  

akila-dhananjaya-6-wickets-vs-india

शिखर धवन को आउट कर धनंजया ने भारत को पहला झटका दिया और देखते ही देखते उन्होंने एक के बाद एक भारत के 6 बल्लेबाजों को पेवेलियन चलता किया। धनंजया ने सिर्फ 13 गेंदों में मैच का रुख भारत से मोड़कर श्रीलंका की तरफ मोड़ दिया। धनंजया ने रोहित शर्मा (54 रन ), राहुल (4 रन ), केदार जाधव (1 रन ), विराट कोहली (4 रन ), हार्दिक पांड्या (0 रन ) और अक्षर पटेल (6  रन ) को आउट कर भारतीय खेमे में खलबली मचा दी। भारत का स्कोर 109 पर 0 विकेट से 131 पर 7 हो गया और भारत पर हार का साया मंडराने लगा।

भुवनेश्वर - धोनी बने हीरो - भारत को दिलाई जीत 

हार की तरफ बढ़ रही भारतीय टीम को बचाया महेंद्र सिंह धोनी और भुवनेश्वर कुमार की जोड़ी ने। इन दोनों ने संभलकर बल्लेबाजी करते हुए अंत तक टीके रहे और भारत की जीत सुनिश्चित की। इन दोनों ने ८वें विकेट के लिए नाबाद 100 रनो की साझेदारी की। भुवनेश्वर कुमार ने अर्धशतक लगते हुए 80 गेंदों में 53 रन बनाये। जबकि धोनी ने भी 68 गेंदों में 45 रन जोड़े।

श्रीलंका के धनंजया को मेन ऑफ़ ध मैच चुना गया। भारत अब सीरीज में 2-0 से आगे है। तीसरा मैच 27 तारीख को खेला जायेगा।