वर्ल्डकप के रोमांचक मुकाबले में इंग्लैंड को हराकर वेस्ट इंडीज़ बना T20 चैम्पियन


टवेंटी टवेंटी वर्ल्ड कप के हाई वोल्टेज फ़ाइनल मुकाबले में वेस्ट इंडीज़ ने आखरी ओवर में इंग्लैंड की पक्की जीत को हार में पलट कर दूसरी बार वर्ल्डकप अपने नाम किया. वेस्ट इंडीज़ को आखरी ओवर में 19 रनों की जरुरत थी. ब्राथवेइट ने आखरी ओवर की पहली 4 गेंदों में 4 छक्के लगाकर केरेबियन टीम को चैम्पियन बनाया.

टॉस वेस्ट इंडीज़ ने जीता - पहले गेंदबाजी
कोलकाता के इडन गार्डन में खेले जा रहे विश्वकप के सबसे बड़े मुकाबले में वेस्टइंडीज़ के कप्तान डेरेन सेमी ने टॉस जीतकर इंग्लैंड को पहले बल्लेबाजी के लिए आमंत्रित किया

इंग्लैंड की ख़राब शुरुआत
टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी इंग्लैंड की शुरुआत बेहद ख़राब रही. वेस्टइंडीज़ के सेम्युअल बद्री ने मेच के दुसरे बोल पर ही अब तक अच्छे फॉर्म में चल रहे जेसन रॉय को चलता किया. उसके दुसरे ही ओवर में रसेल ने हेल्स को और पांचवी ओवर में बद्री ने कप्तान मॉर्गन को भी चलता किया. उस वक्त इंग्लेंड का स्कोर सिर्फ 23 रन था और 100 का स्कोर भी मुश्किल लग रहा था.

जो रूट - बटलर ने संभाली पारी
फ़ाइनल के इस नाजुक मोड़ पर इंग्लेंड के इन फॉर्म बेट्समेन जो रूट ने पारी संभाली. रूट ने अच्छी बल्लेबाजी करते हुये करियर की चौथी और इस वर्ल्डकप की दूसरी फिफ्टी लगाई. रूट ने 36 गेंदों में 56 रन बनाये जिसमे 7 चौके थे.  रूट का साथ देते हुये विकेटकीपर बेट्समेन जोस बटलर ने 3 सिक्सर्स और 1 चौके की मदद से 22 गेंदों में 36 रन बनाये. रूट और बटलर ने सिर्फ 40 गेंदों में 61 रन की पार्टनरशिप की. लेकिन इनके बाद इंग्लैंड का कोई भी बेट्समेन टिक नहीं पाया और इंग्लैंड ने 20 ओवरों में 155 रन बनाये.

विंडीज़ का रन-चेज़ - इंग्लेंड का करारा जवाब
156 रनों का पीछा करते हुये उतरी केरेबियन टीम को इंग्लैंड ने शरुआत से ही दबाव में रखा. इनिंग की दूसरी ओवर कप्तान मॉर्गन ने रूट को दी.बल्लेबाजी में शानदार प्रदर्शन करने वाले रूट ने गेंदबाजी में भी अपना जलवा दिखाया. रूट ने इसी ओवर में पहले चार्ल्स और फिर बाद में गेल को आउट करके तहलका मचा दिया.
इसके बाद के ही ओवर में सेमी फ़ाइनल के हीरो सिमोंस को भी विली ने चलता किया और विंडीज़ का स्कोर 11 रन पर 3 विकेट हो गया

सेम्युअल्स ने संभाला
इंग्लेंड के अटेक से धाराशाई हो रही पारी को सेम्युअल्स ने संभाला. सेम्युअल्स ने पहले ब्रावो के साथ मिलकर 75 रन की पार्टनरशिप की ओर केरेबियाई पारी को संभाला.सेम्युअल्स ने 66 गेंदों में 9 चौके और 2 सिक्सर्स की मदद से शानदार 85 रनों की पारी खेली.


ब्राथवेइट ने किया काम तमाम
पूरी पारी में इंग्लैंड ने शानदार गेंदबाजी की थी और वेस्टइंडीज़ को आखरी ओवर में 19 रन बनाने थे. तब स्ट्राइक पर ब्राथवेइट थे और कप्तान मॉर्गन ने गेंद बेन स्टोक्स की दी. इंग्लैंड यह मेच जीत जायेगा एसा लग रहा था लेकिन स्ट्राइक ले रहे ब्राथवेइट ने कुछ ओर ही सोचा था. उन्होंने स्टोक्स की ओवर की पहली चारो गेंदों को एक के बाद एक पेवेलियन में भेजते हुये 4 सिक्सर्स लगाये और विंडीज़ को वर्ल्डकप दिलाया.

सेम्युअल्स प्लेयर ऑफ़ ध मेच - विराट प्लेयर ऑफ़ ध सिरीज़
अपनी शानदार पारी से मेच जितने वाले सेम्युअल्स को प्लेयर ऑफ़ ध मेच घोषित किया गया जबकि टूर्नामेंट में शानदार प्रदर्शन करने वाले विराट कोहली प्लेयर ऑफ़ ध टूर्नामेंट चुना गया.

T20 के विश्व विजेता


साल
विजेता
उपविजेता
2007
भारत
पाकिस्तान
2009
पाकिस्तान
श्रीलंका
2010
इंग्लैंड
ऑस्ट्रेलिया
2012
वेस्टइंडीज़
श्रीलंका
2014
श्रीलंका
भारत
2016
वेस्टइंडीज़
इंग्लैंड
Share on Google Plus

About Aspiring Blogger