सेहवाग ने ओलिम्पिक में भारत की जीत का मजाक बनानेवाले ब्रिटिश पत्रकार की बोलती की बंद


वीरेन्द्र सेहवाग ने भारत के ओलिम्पिक में भारत के सिर्फ 2 मैडल जितने पर भारत में हुए सेलेब्रेशन की बात का मजाक उड़ाने वाले ब्रिटिश पत्रकार पिअर्स मॉर्गन को करारा जवाब दिया. 

वीरेन्द्र सेहवाग अपने अनूठे अंदाज के लिए सोशल मीडिया में वेसे ही बहुत मशहूर है. सेहवाग किसी भी बात का बड़े ही शानदार तरीके से जवाब देते है. अपने हाजिर जवाबी और सेन्स ऑफ़ ह्यूमर की वजह से सहवाग ने काफी लोगो का मूंह बंध किया है.

इस बार सेहवाग की हाथों ब्रिटिश पत्रकार पिअर्स मॉर्गन चढ़ गए. पिअर्स ने ओलिम्पिक में 2 मैडल जितने के बाद भारत में हुए शानदार सेलेब्रेशन पर कटाक्ष किया तो सेहवाग ने उनको अपने ही अंदाज में जवाब देकर उनकी बोलती बंध की.

पिअर्स ने ट्वीट कर कहा की सवा अरब की जनसंख्या वाला देश सिर्फ 2 मैडल जीतकर ख़ुशी मना रहा है, कितने शर्म की बात है. इसके जवाब में सेहवाग ने ट्वीट किया की हम हरेक छोटी छोटी खुशियों का भी मजा लेते है लेकिन इंग्लैंड की जिसने क्रिकेट को खोजा वोह एक भी बार वर्ल्डकप नहीं जीता फिर भी वर्ल्डकप खेलता है क्या यह शर्मनाक नहीं है. 


सेहवाग का ये ट्वीट सोशल मीडिया में छा गया और हजारो बार रीट्वीट भी किया गया. सेहवाग के ट्वीट के जवाब में मॉर्गन ने फिर ट्वीट किया की अगर केविन पीटरसन खेल रहे होते तो इंग्लैंड विश्वकप जरुर जीतता. तो सेहवाग ने फिर जवाब दिया और यद् दिलाया की केविन पीटरसन मूलतः दक्षिण अफ़्रीकी है इंग्लिश नहीं और उनके तर्क के हिसाब से 2007 का विश्वकप इंग्लैंड को जितना चाहिए था क्यूंकि पीटरसन उस वक्त टीम का हिस्सा थे.

सेहवाग के जवाब ने पिअर्स मॉर्गन का मूंह बंध तो किया ही साथ में सोशल मीडिया में भी काफी चर्चास्पद और मनोरंजक  साबित हुआ. पिअर्स मॉर्गन का इसके बाद ट्वीटर पर बहुत मजाक उड़ा.


Share on Google Plus

About Aspiring Blogger